राज्यों से
नायब तहसीलदार सदर सहित आठ के विरुद्ध जालसाजी का मुकदमा दर्ज करने का आदेश
title=

 मऊ। रिकार्ड रुम में खतौनी गायब करने के बाद कूट रचना कर खतौनी में फर्जी वसीयत व फर्जी आदेश के आधार पर नाम दर्ज कराने के मामले में सीजेएम ने तत्कालीन नायब तहसीलदार सदर व कस्टोडियन रिकार्ड रुम कलेक्ट्रेट सहित 8 के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने का आदेश शहर कोतवाली को दिया है। इस मामले में दक्षिण टोला थाना क्षेत्र की डोमनपुरा मुहल्ला निवासिनी वंदना पत्नी रोहन ने प्रार्थना पत्र दिया था कि उसके पति के मृत्यु के बाद उसके और उसके नाबालिग पुत्र का नाम आराजियात में दर्ज हुआ। मुहल्ले के ही रेखा देवी, उसके पति जगत प्रसाद व पुत्र सुमित कुमार तथा राजेश राय निवासी बरलाई थाना सरायलखंसी ने तत्कालीन नायब तहसीलदार सदर व कस्टोडियम रिकार्ड रुम कलेक्ट्रेट तथा अन्य अज्ञात सरकारी लोगो से मिलकर साजिश के तहत कपट पूर्वक सदोष लाभ लेने के लिए रिकार्ड रुम ने खतौनी 1388-93 फसली को गायब कर दिया और धोखाधड़ी करते हुए कूट रचना कर खतौनी में अंकित किया कि वाद संख्या 63 फैसला दिनांक 01.06.1982 द्वारा 34 भू राजस्व अधिनियम के अन्तर्गत ग्राम डोमनपुरा खाता संख्या 226-227 व समस्त चल-अचल सम्पत्ति से बंगी पुत्र गोबिन्द का नाम खारिज कर वसीयत के आधार पर पार्वती बेवा बंगी निवासी डोमनपुरा का नाम बतौर वारीस दर्ज हो। इस कार्यवाही में पार्वती देवी पत्नी बंगी के स्थान पर जगत प्रसाद का नाम दर्ज करा लिया गया। आरोप लगाया कि उस इन्दराज में वाद संख्या 63 फैसला दिनांक 01.06.1982 को कोई पत्रावली ही नहीं है। न ही उक्त फसली के मालिकान रजिस्टर में और न ही आगामी फसली की खतौनियों में ऐसा कोई आदेश अंकित हुआ है और न ही कभी कोई ऐसा आदेश हुआ है। मामले में सीजेएम ने प्रथम दृष्टया संज्ञेय अपराध पाते हुए शहर कोतवाल का आदेशित किया कि वे मामले में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर अपनी विवेचना करें। 

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।