उत्तरप्रदेश
गृहमंत्री के संसदीय क्षेत्र से रेल मंत्री आज देंगे कई सौगातें
title=

 लखनऊ। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के संसदीय क्षेत्र लखनऊ में दोपहर बारह बजे गोमती नगर रेलवे स्टेशन पर रेल मंत्री सुरेश प्रभु पहुंच रहे हैं। रेलवे के कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम में रेल मंत्री देश को कई सौंगातें देंगे। शुक्रवार को पूर्वोत्तर रेलवे के गोमती नगर रेलवे स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रेल मंत्री सुरेश प्रभु, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा एक साथ होंगे। यहां अलीगढ़ जंक्शन स्टेशन के इलेक्ट्रानिक इंटरलाकिंग कार्य व दो नये प्लेटफार्मो व वार्ड रिमाडलिंग, गोमती नगर टर्मिनल के प्रथम चरण के कार्यो व लखनऊ जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या छह पर एस्केलेटरों व उन्नत यात्री सुविधाओं और लखनऊ दिलकुशा बाराबंकी खण्ड पर गोमती नदी पर पुल संख्या 469 व लखनऊ स्टेशन पर पूर्णरूपेण एलईडी द्वारा ऊर्जा दक्ष प्रकाश व्यवस्था का लोकार्पण होगा। वहीं इलाहाबाद मंडल कार्यालय में एक मेगावाट सोलर पावर पैनलों व उत्तर मध्य रेलवे में सात एक्सेलेटरों व तीस लिफ्टों का, गोमतीनगर टर्मिनल के द्धितीय चरण के कार्यो एवं ऐशबाग व डालीगंज स्टेशनों के द्धितीय प्रवेश द्वार व लखनऊ सीटी के अतिरिक्त प्रवेश द्वार और लखनऊ स्टेशन यार्ड के चार लाइन प्रवेश, निकास व इलेक्ट्रानिक इण्टरलाकिंग कार्यो एवं चार एस्केलेटरों व पांच लिफ्टों का शिलान्यास भी होगा। पूर्वोत्तर रेलवे की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद मायावती, राज्यसभा सांसद नरेश अग्रवाल, राज्यसभा सांसद सतीश चन्द्र मिश्रा और राज्यसभा सांसद किरनमय नन्दा भी शिरकत करेंगे। वहीं पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक राजीव मिश्रा भी मौजूद रहेंगे।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।