राज्यों से
हिमालच में स्क्रब टायफस से 26वीं मौत

 शिमला। प्रदेश में स्क्रब टायफस से हो रही मौतें लगातार जारी है। आईजीएमसी में बिलासपुर की 15 वर्षीय एक लड़की की स्क्रब टायफस से मौत हो जाने से संख्या बढक़र 26 हो गई है। बिलासपुर के जुखाल से इस 15 वर्षीय लड़की को गंभीर हालत में आईजीएमसी लाया गया था। यहां पर टेस्ट में लड़की को स्क्रब होने की पुष्टि हुई। हांलाकि पूरा उपचार किया गया, लेकिन लड़की की हालत काफी बिगड़ चुकी थी। इसके चलते गुरुवार को उसकी मौत हो गई। आईजीएमसी के एमएस डा रमेश ने बताया कि बीते चार महीनों के दौरान आईजीएमसी में स्क्रब से 19 व्यक्तियों की मौत को चुकी है। जबकि प्रदेशभर में यह संख्या 26 हो गई है। इसके साथ बीते पांच सालों के दौरान इस बार स्क्रब टायफस से सबसे अकिध मौतें हुई हैं। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मॉनिटरिंग की जा रही है और रोजाना रिपोर्ट निदेशालय और सचिवालय भेजी जाती है। चिकित्सकों का तर्क है कि लोगों को चाहिए कि बरसात के दिनों में झाड़ियों से दूर रहें और घास आदि में न जांए। स्क्रब टायफस का शिकार होने वाले लोगों में किसान और बागबानों की संख्या अधिक है। स्क्रब टायफस होने पर मरीज को तेज बुखार जिसमें 104 से 105 तक जा सकता है।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।