राज्यों से
युवा कांग्रेस और एनएसयूआई ने सिंधिया के खिलाफ लगाए नारे, काले झंडे दिखाए
title=
मुरैना। मुरैना में पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को युवक कांग्रेस और एनएसयूआई का भारी विरोध झेलना पड़ा। स्वागत के लिए नहीं रुकने के कारण कार्यकर्ताओं ने उन्हें काल झंडे दिखाए और मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। 
मुरैना से अम्बाह जा रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया को आक्रोशित युवा कांग्रेसियों के विरोध का सामना करना पड़ा। वहीं ग्राम खेरा पर कुछ लोगों ने काले झण्डे दिखाये। हालांकि सिंधिया ने इससे इनकार किया है। मंगलवार दोपहर बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया मुरैना शहर से अम्बाह जाने के लिये काफिले के साथ निकल रहे थे। उसी समय एक स्थान पर युवक कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारी दीपक शर्मा तथा युवक कांग्रेस लोकसभा अध्यक्ष सौरभ सोलंकी के नेतृत्व में कार्यकर्ता ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत के लिये खड़े हुये थे। सिंधिया के आने पर इन लोगों ने वाहन से उतरने का अनुरोध किया, लेकिन सिंधिया द्वारा समय की दुहाई देकर इनकार कर दिया। इससे गुस्साये कार्यकर्ताओं ने सिंधिया हाय हाय के नारे लगाते हुये विरोध प्रकट कर दिया। इसके बाद सिंधिया का वाहन धीमी गति से आगे बढ़ गया।
सांसद सिंधिया का विरोध आज खेरा गांव में भी दिखाई दिया। मुरैना से अम्बाह जाते समय सिंधिया को ग्रामीणों ने बड़े-बड़े काले झण्डे दिखाये, हालांकि सिंधिया का काफिला यहां रूका नहीं, यह ग्रामीण कौन थे और किसके इशारे पर काले झण्डे दिखा रहे थे, यह अभी पता नहीं चल सका है। सिंधिया का विरोध कर रहे युवा कांग्रेस की राजनीति मेें दूसरे गुट से बताये जाते हैं। वहीं ग्रामीणों द्वारा दिखाये गये काले झण्डे के पीछे भी अम्बाह की एक कांग्रेस पदाधिकारी के हाथ होने की चर्चा सभा स्थल पर दबी जुवान से हो रही थी।
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।