कारोबार
यूरिया कारोबार यारा फर्टिलाइजर्स को टाटा केमिकल्स ने बेचा
title=

 नई दिल्ली। टाटा केमिकल्स ने अपना यूरिया कारोबार नार्वे के यारा समूह की भारतीय इकाई यारा फर्टिलाइजर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को 2,670 करोड़ रुपए में बेचने की आज घोषणा की। सौदे के तहत कंपनी उत्तर प्रदेश के बबराला में 12 लाख टन क्षमता वाले उर्वरक संयंत्र का कारोबार बेचेगी। यूरिया कारोबार को बेचने के बाद टाटा केमिकल्स नमक टाटा साल्ट, दाल तथा मसाला संपन्न ब्रांड के तहत बेचे जाने वाले तथा वाटर प्यूरिफायर टाटा स्वच्छ जैसे अपने उपभोक्ता सामग्री के कारोबार पर ध्यान देगी। नियामकी मंजूरियां मिलने पर यह सौदा नौ से 12 महीनों में परवान चढ़ सकता हे। यारा आंतरिक संसाधनों से अधिग्रहण के लिए धन जुटाएगी। टाटा केमिकल्स ने एक बयान में कहा कि कंपनी के निदेशक मंडल ने आज अपनी बैठक में इस बारे में एक प्रस्ताव को मंजूरी दी। बयान में कहा गया है कि निदेशक मंडल ने बबराला में स्थित कंपनी के संयंत्र में विनिर्मित किए जाने वाले यूरिया और ग्राहकों की जरूरत के अनुसार तैयार किए जाने वाले अन्य उर्वरकों की बिक्री और वितरण के कारोबार को सम्मिलित रप से बिक्री के आधार पर यारा फर्टिलाइजर्स इंडिया को हस्तांतरण करने के बारे में निदेशकों की समिति के साथ साथ आडिट समिति के सुझावों का मान लिया है। बयान में कहा गया है कि इस सौदे के तहत कंपनी का यूरिया कारोबार, उसकी परिसंपत्ति, देनदारी, अनुबंध, विलेख आदि यारा इंडिया को हस्तांतरित किए जाएंगे। 

आपको यहां पर बताते चलें कि यह सौदा 2,670 करोड़ रुपए में हुआ है। टाटा केमिकल्स ने कहा कि टाटा केमिकल्स द्वारा यूरिया कारोबार के विनिवेश से कंपनी का मूल्य बढेगा और इसकी बैलेस-शीट मजबूत होगी तथा इसकी वृद्धि की संभावना बेहतर करने में मदद मिलेगी। टाटा केमिकल्स के प्रबंध निदेशक आर मुकुन्दन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह उपभोक्ता कारोबार को आगे बढ़ाने के कंपनी की रणनीति के अनुरूप है। हम अकार्बनिक रसायन कारोबार में अपनी मजबूत स्थिति को बनाए रखेंगे और रैलिस तथा मेथाहेलिक्स के जरिए कृषि कारोबार पर ध्यान देने की कोशिश करेंगे।
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।