राज्यों से
दहेज के कारण से टूटी दो बहनों की शादी, लेकिन 2 घंटे में मिल गए नए दूल्हे
title=


भोपाल।

मप्र के छतरपुर जिले के एक गांव में दिलचस्प घटनाक्रम सामने आया। यहां 21 अप्रैल को छपरा गांव की दो बहनों की शादी होना थी, लेकिन उनके पिता दहेज की मांग पूरी नहीं कर पाए तो लड़के वालों ने शादी से चंद घंटों पहले रिश्ता तोड़ दिया। लड़कियों की शादी टूटने की खबर जैसे ही इलाके में फैली तो कुछ ही घंटों के अंदर एक परिवार सामने आया और अपने दोनों लड़कों की शादी उन लड़कियों से करवा दी।

छतरपुर जिले के विराहुलपुरवा गावं के निवासी नत्थू पाल के दो बेटों रामप्रकाश अौर प्रमोद कुमार की शादी छपरा गांव के रहने वाले रामशिरोमन पाल की बेटियों विद्या देवी और शिव देवी से पक्की हुई थी। 21 अप्रैल की शाम को शादी थी, लेकिन दोपहर 12 बजे अचानक लड़के वालों ने शादी तोड़ दी। कहा जा रहा है कि दहेज की मांग पूरी नहीं कर पाने के कारण रिश्ता तोड़ा गया था। शादी की तैयारियां पूरी हो चुकी थीं। महज चंद घंटों पहले शादी टूटने से लड़की वालों के परिवार पर दुख का पहाड़ टूटा था।

शादी टूटने से लड़कीवालों का परिवार बेहद दु:खी था। तभी दोपहर 2 बजे पास के गांव नदौता के सिद्धा पाल लड़की वालों के घर आए और तय तारीख और समय पर ही अपने बेटों मुखिया और बाबू की शादी दोनों बहनों से करवाने का प्रस्ताव रखा। लड़की के पिता रामशिरोमन तत्काल इसके लिए राजी हो गए। महज चार घंटे की तैयारी के दौरान दूसरे दूल्हे बरात लेकर पहुंचे और उसी पंडाल और मंडप में शादी की सभी रस्में पूरी की गईं। गांव की बेटियों की शादी की खबर फैलते ही गांव में फिर खुशियां आ गईं। स्थानीय विधायक भी इस शादी में पहुंचे। शुक्रवार को इस शादी की रस्में पूरी हुईं।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।