मध्यप्रदेश
रातभर कमरे में भरती रही गैस, सुबह हुए ब्लास्ट में 2 बहनों की मौत
title=


लहार/भिंड/ग्वालियर।

सिलेंडर से लीक हुई गैस रात भर कमरे में भरती रही। सुबह जब लीकेज ठीक करने के बाद माचिस की तीली सुलगाई तो कमरे में ब्लास्ट हो गया। सिलेंडर तो नहीं फटा, लेकिन हादसा इतना भीषण था कि कमरे में सो रहीं दो सगी बहनों की मौत हो गई। उनकी बड़ी बहन, मां-पिता समेत चार लोग गंभीर झुलसे हैं, जिन्हें इलाज के लिए ग्वालियर के जेएएच में भर्ती किया गया है। गुमटी लगाने वाले सुभाष उर्फ भोला चौरसिया (45) के पास गैस कनेक्शन नहीं होने के कारण वे बाजार से ब्लेक में सिलेंडर खरीदते हैं। शुक्रवार रात सुभाष के घर में रखे सिलेंडर से गैस लीक हो रही थी।

शनिवार सुबह लीकेज के कारण कमरे में गैस की बदबू फैल चुकी थी। पत्नी मीना ने पड़ोस के ही नल सुधारने वाले भूरे उर्फ भूपेंद्र को बुलाया आैर गैस लीकेज के बारे में बताया। भूरे ने सिलेंडर से लगी लेजम से हो रहे लीकेज को ठीक करने की बात कहकर मीना से कहा कि अब इसे चेक कर लो। मीना ने गैस का चूल्हा जलाने के लिए माचिस की तीली जलाई। इस कारण ब्लास्ट हो गया। ब्लास्ट में सुभाष, उनका भाई सुधीर (35), पत्नी मीना (40), तीनों बेटियां भावना (15), ऋतु उर्फ गुड़िया (7), बबली (3) और मिस्त्री भूरे उर्फ भूपेंद्र बुरी तरह झुलस गए।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।