राज्यों से
शहर के सभी बड़े सबस्टेशनों की बिजली क्षमता को बढ़ाया जा रहा
title=


फरीदाबाद।

इस बार भीषण गर्मी में लोगों को ओवरलोडिंग व अघोषित कटों से राहत मिलेगी। एक बार फिर यह दावा बिजली निगम ने किया है। मार्च में ही शहर की बिजली डिमांड रोज 100 लाख यूनिट पहुंच गई है। मई-जून की गर्मी में शहर की बिजली की डिमांड 200 लाख यूनिट तक पहुंच जाती है। जिले का बिजली इंफ्रास्ट्रक्चर कमजोर व लोड अधिक होने से हर बार शहर के लोगों को ओवरलोडिंग कटों की मार झेलनी पड़ती है। निगम के दावे के अनुसार शहर के सभी बड़े सबस्टेशनों की बिजली क्षमता को बढ़ाया जा रहा है। एडिशनल ट्रांसफार्मर लगाकर बिजली सिस्टम को अपग्रेड किया जा रहा है।

जीआईएस से खत्म होगी परेशानी :इस साल शहर के लिए सबसे राहत भरी बात यह है कि हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम की ओर से सेक्टर-18 में 220 केवी के गैस इंसुलेटिड सब स्टेशन को शुरू कर दिया गया है। इस सबस्टेशन से शहर के साढ़े तीन लाख उपभोक्ताओं को फायदा मिला है। साथ ही बिजली इंफ्रास्ट्रक्चर पहले से अधिक मजबूत हुआ है। गैस इंसुलेटिड सब स्टेशन के शुरू होने से सब स्टेशन लेवल पर ओवर लोडिंग की समस्या दूर हो गई है। सिस्टम ओवर लोड फ्री हो जाने से पेंडिंग पड़े कनेक्शनों को भी रिलीज करना शुरू कर दिया गया है।

दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम (डीएचबीवीएन) के अधिकारियों के अनुसार 200 से अधिक फीडरों पर मरम्मत का काम पूरा किया जा चुका है। 100 से अधिक फीडरों की मेंटीनेंस चल रही है। इसके अलावा 200 किलोमीटर से अधिक बिजली के तारों को बदल दिया गया है। पुराने कंडक्टर भी बदल दिए गए हैं। विभाग का दावा है कि इस बार ब्रेक डाउन की फ्रीक्वेंसी भी काफी कम रहेगी। उपभोक्ताओं को 24 घंटे निर्बाध बिजली सप्लाई मिलती रहेगी। बिजली निगम की ओर से शहर के सबसे बड़े नवादा पावर हाउस की क्षमता को बढ़ाने का काम चला रहा है। पावर हाउस को ओवरलोडिंग फ्री बनाया जा रहा है। इसके लिए पावर हाउस पर 315 एमवीए का एडिशनल ट्रांसफॉर्मर लगाया जा रहा है। जिससे शहर के करीब 50 हजार अतिरिक्त उपभोक्ताओं को बिजली सप्लाई दी जा सकेगी। इसके अलावा 66 केवी ईदगाह सबस्टेशन की क्षमता को बढ़ाकर दोगुना किया जा रहा है। पीक गर्मी के सीजन में अचानक से लोड बढ़ने पर भी यह सबस्टेशन काम करता रहेगा।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।