खेल
पूर्व टेनिस खिलाड़ी निक लिडाल पर सात वर्ष का प्रतिबंध
सिडनी। 
 
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व टेनिस खिलाड़ी निक लिडाल पर सात वर्ष का प्रतिबंध और 35 हजार डॉलर का जुर्माना लगाया गया है। लिडाल पर वर्ष 2013 में एक टूर्नामेंट के दौरान मैच फिक्सिंग का आरोप था। दो अन्य खिलाड़ियों ब्रैंडन वाकिन और इसाक फ्रोस्ट को भी आरोपी ठहराया गया है। लिडाल 28 वर्ष के हैं लेकिन वह 2013 में ही संन्यास ले चुके हैं। लेकिन इस निर्णय के बाद वह अगले सात वर्षों तक अपने टेनिस में वापसी नहीं कर सकेंगे। 
 
भ्रष्टाचार रोधी इकाई की स्वतंत्र जांच में सुनवाई करने वाले अधिकारी रिचर्ड एच. मैकलारेन ने कहा, लिडाल बैन के साथ ही किसी भी टेनिस टूर्नामेंट में शिरकत नहीं कर सकेंगे। गत वर्ष अप्रैल में लिडाल को 2013 के एक टूर्नामेंट में मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया था लेकिन वह जेल जाने से बच गए थे। लिडाल के अलावा दुनिया में 1066वीं रैंकिग के वाकिन को भी छह महीने के लिए निलंबित किया गया है। साथ ही फ्रोस्ट को जांच प्रक्रिया में मदद नहीं करने का आरोपी ठहराया गया है।
  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।